बुधवार

ATM जैसा आधार कार्ड, मंगाएं घर बैठे

आधार कार्ड एक बहुत ही जरूरी दस्तावेज है। इसका उपयोग हर जगह जरूरी हो गया है। यह बैंक खातों और पैन कार्ड के साथ तो लिंक होता ही है, साथ ही सरकारी योजनाओं में भी ये बहुत जरूरी है।

आधार कार्ड को अब ID कार्ड के रूप में भी माना जाने लगा है। इसलिए आपके पास हर समय आधार कार्ड होना चाहिए। ज्यादातर लोगों के पास जो आधार कार्ड होता है वह कागज पर एक कलर प्रिंट आउट होता है। लेकिन अब आप ATM की तरह दिखने वाले आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं।



घर बैठे ही हो जाएगा काम

कागज़ के आधार कार्ड के भीगने, फटने और धुल जाने का डर रहता है। लेकिन अब आप आधार कार्ड जारी करने वाला विभाग (UIDAI) की वेबसाइट के जरिए पीवीसी कार्ड पर प्रिंट हुआ आधार कार्ड अप्लाई कर सकते हैं। और यह काम आप घर बैठे ही कर सकते हैं। और यह सीधा आपके घर स्पीड पोस्ट के जरिए आ भी जाएगा।


आधार पीवीसी कार्ड के फीस और फायदे

पीवीसी आधार कार्ड की क्वालिटी अच्छी होती है और इसे आसानी से कही भी रखा जा सकता है। पीवीसी आधार कार्ड में होलोग्राम, Guilloche पैटर्न, Ghost Image और माइक्रोटेक्स्ट सिक्योरिटी फीचर्स जैसे फीचर्स दिए होते है जिसमें क्यूआर कोड के जरिए ऑफलाइन वेरिफिकेशन भी कर सकते है। इस कार्ड के लिए आपको सिर्फ 50 रुपये देना होगा।


आधार PVC कार्ड अप्लाई करने का तरीका

1. इसके लिए आप UIDAI की वेबसाइट (uidai.gov.in/my-aadhaar/get-aadhaar.html) पर जाइए।
2. स्क्रोलिंग करके नीचे आएं और Order Aadhaar PVC Card ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
3. अब आपको अपना आधार नंबर और Security Code डालना होगा।
4. Send OTP ऑप्शन पर क्विल कर दें।
5. अब आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर OTP आएगा, जिसे आपको दर्ज करने होगा और Submit बटन पर क्लिक कर दें।
6. अब आपको डीटेल्स वेरिफाई करना होगा और सब सही होने पर Payment करने होगा।
7. अब आप नेट बैकिंग,यूपीआई, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड किसी के भी जरिए पेमेंट कर दें।
8. पेमेंट पूरा होने पर आपको स्लिप मिल जाएगी और आपका आधार कार्ड कुछ दिन में स्पीड पोस्ट के जरिए आपके घर आ जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Mathura Vrindavan

क्या है हाई ब्लड प्रेशर? हाई ब्लड प्रेशर कितने प्रकार के होते हैं? हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण क्या हैं? हाई ब्लड प्रेशर के कारण क्या है?

हाई ब्लड प्रेशर आज कल आम समस्या बनती जा रही है। इसे गंभीरता से न लेने के कारण ज्यादातर लोग आसानी से इसका शिकार बनते जा रहे हैं। भारत में 8 ल...