शुक्रवार

डिलीवरी के बाद कमजोरी और थकान दूर करने के लिए महिलाओं को हेल्दी और एनर्जेटिक फूड

हर महिला के लिए मां बनने का अहसास सबसे खास होता है। गर्भावस्था से लेकर डिलीवरी तक महिलाओं को बहुत ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत होती है क्योंकि डिलीवरी के बाद महिलाओं के शरीर में कमजोरी आ जाती है। लेकिन इस दौरान मां के लिए बच्चे को पोषण देना भी आवश्यक होता है, और ये शिशु को ब्रेस्ट मिल्क से ही मिल सकता है।




ऐसे में डिलीवरी के बाद कमजोरी और थकान दूर करने के लिए महिलाओं को हेल्दी और एनर्जेटिक फूड खाने की सलाह दी जाती है। क्योंकि, ऐसे खाने से केवल मां के साथ साथ शिशु को भी पोषण मिलता है। तो आज हम आपको ऐसे खाने के बारे में बताने जा रहें हैं, जिसका सेवन आपको डिलीवरी के बाद करना चाहिए:-

सब्जियों और गार्लिक से बना सूप:

सब्जियां शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होती हैं। यह पोषण तो देती ही हैं साथ ही घाव को भरने में भी मदद करती हैं। वहीं, लहसुन ब्रेस्ट मिल्क को बढ़ावा देता है। इसलिए आपको ये सूप पीना चाहिए। ये गर्भावस्था के दौरान बढ़े हुए वजन को कम करने में मदद करता है।


ऐसे बनाएं सूप:

सब्जियों और गार्लिक का सूप बनाने के लिए एक कढ़ाई में थोड़ा-सा तेल डालकर गर्म करें। फिर उसमें एक चौथाई बारीक कटी हुई प्याज और दो बारीक कटे हुए लहसुन डालें। इसके बाद उसमें सब्जियां जैसे बेबी कॉर्न, गाजर आदि मिलाये। अब इस मिश्रण में डेढ़ कप मिल्क, 2 चम्मच ओट्स और नमक मिलाये। जब तक सूप गाढ़ा न हो जाए, तब तक उसे पकाते रहे।

जौ का सूप: डिलीवरी के बाद साबुत अनाज खाने के लिए कहा जाता है। क्योंकि, इनमें पाए जाने वाले पोषक तत्व महिलाओं में कमजोरी को दूर करता हैं। गेहूं में प्रोटीन, आयरन और फाइबर की मात्रा होती है, यह घावों को जल्दी भरने में मदद करता हैं।

इस तरह बनाएं: इस सूप को बनाने के लिए करीब दो घंटे पहले दो चम्मच जौ को भिगोकर रख दें। फिर कुकर में थोड़ा-सा तेल डाल लें। उसमें एक चौथाई बारीक कटी हुई प्याज और दो चम्मच घिसा हुआ लहसुन डाले। अब दो चम्मच जौ, एक चौथाई कप कटी गाजर, दो चम्मच धुली हुई साबुत लाल दाल और साढ़े चार कप पानी डाले। करीब 3 सीटी आने तक सूप को पकने दें। फिर इसमें बारीक कटा हुआ धनिया, टमाटर, नमक डालकर उबाल लें। नमक डालकर गरमागर्म इसका सेवन करें।

कोई टिप्पणी नहीं:

Mathura Vrindavan

क्या है हाई ब्लड प्रेशर? हाई ब्लड प्रेशर कितने प्रकार के होते हैं? हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण क्या हैं? हाई ब्लड प्रेशर के कारण क्या है?

हाई ब्लड प्रेशर आज कल आम समस्या बनती जा रही है। इसे गंभीरता से न लेने के कारण ज्यादातर लोग आसानी से इसका शिकार बनते जा रहे हैं। भारत में 8 ल...