Type Here to Get Search Results !

एक शादी समारोह में मेहमानो के साथ बदसलूकी करने पर पश्चिमी त्रिपुरा जिले के डीएम शैलेश कुमार यादव को खामियाजा भुगतना पड़ा

एक शादी समारोह में मेहमानो के साथ बदसलूकी करने पर पश्चिमी त्रिपुरा जिले के डीएम शैलेश कुमार यादव को खामियाजा भुगतना पड़ा है। सोशल मीडिया पर हुए वायरल वीडियो के बाद त्रिपुरा सरकार ने शैलेश कुमार यादव को पद से स्थगित कर दिया है।


DM shelesh kumar
Shelesh Yadav IAS

उन पर एक शादी समारोह में बदसलूकी करने का आरोप लगा है। उनका यह वीडियो भी सोशल मीडिया में बहुत तेज़ी से वायरल हुआ है। रविवार के दिन शैलेश यादव ने मुख्य सचिव मनोज कुमार को पत्र लिख के उनसे अगरतला के डीएम के प्रभार से मुक्त करने का अनुरोध किया था क्योंकि इस घटना के बारे में उनसे बहुत ज्यादा पूछताछ चल रही थी।
26 अप्रैल 2021 की रात को हुई घटना की जांच के लिए त्रिपुरा सरकार ने एक उच्च स्तरीय जांच समिति का गठन किया है और जांच के लिए शैलेश कुमार यादव ने खुद को पश्चिमी जिला के डीएम पद से खुद को हटने के लिए अनुरोध किया।

कानून मंत्री रतन लाल नाथ ने इस बात की जानकारी दे कर कहा है कि मुख्य सचिव ने उनके पत्र को स्वीकृति दे दी है और उन्हें पद से मुक्त कर दिया है। इसके बाद अब पश्चिम जिला मजिस्ट्रेट का प्रभार उद्योग और वाणिज्य विभाग के निदेशक रवेल हमेंद्र कुमार को दिया गया है।

क्या हुआ था पूरा मामला?

26 अप्रैल की रात में शैलेश यादव ने एक शादी समारोह को रोक दिया था। उन्होंने मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों, मेहमानों और पंडित के साथ दुर्व्यवहार किया था। उन्होंने दूल्हा और दुल्हन को भी समारोह से जाने को कह दिया था। और उनका यह वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो गया।

घटना के बाद मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को इस घटना पर एक रिपोर्ट देने के लिए कहा और इस घटना की जांच के लिए दो आईएएस अधिकारियों की एक समिति गठित की। शुरुआती जांच में ही यादव ने माफी मांगी थी। उन्होंने बताया कि कोरोनो के बढ़ते प्रकोप को रोकने के लिए उन्होंने ऐसी कानून-व्यवस्था लागू की थी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Below Post Ad

Hollywood Movies